in

होली के पहले मुर्गे का दोगुना हो गया दाम, चिकन, मटन की दुकानों पर भारी भीड़

Sharing Is Caring

कुछ माह पूर्व बर्ड फ्लू की वजह से प्रभावित हुए पोल्ट्री उद्योग को होली ने बड़ी राहत दी है। होली पर इस बार चिकन की इस कदर मांग बढ़ी है कि दाम पिछले वर्ष की तुलना में तकरीबन दो गुना बढ़ गए हैं। होलिका दहन के एक दिन पूर्व प्रयागराज की तमाम दुकानों पर मुर्गे की कीमत 200 रुपये किलो तक पहुंच गई। बताया जा रहा है कि रविवार को इसके दाम में तेजी और भी आ सकती है। चिकन के साथ मटन की भी बिक्री शनिवार को खूब हुई।

होली के मौके पर सामान्य दिनों के मुकाबले चिकन की डिमांड चार से पांच गुना तक बढ़ जाती है। इस बार भी ऐसा हुआ है। कुछ माह पूर्व बर्ड फ्लू की वजह से पोल्ट्री उद्योग नुकसान पर चल रहा था। लेकिन होली से बूस्टर डोज मिल गया। होली पर डिमांड ज्यादा और उत्पादन कम होने की वजह से बीते दो से तीन दिन में मुर्गे की कीमत फुटकर में 200 रुपये किलो तक पहुंच गई है।

पोल्ट्री फार्म
पोल्ट्री फार्म

कहीं-कहीं 160 से 180 रुपये किलो की दर से भी मुर्गा मिल रहा है, जबकि बर्ड फ्लू के दौरान 30 से 40 रुपये किलो में भी अधिकांश लोग मुर्गा खरीदने को तैयार नहीं थे। कारोबारी जावेद ने बताया कि पिछले वर्ष कोरोना और उसके बाद बर्ड फ्लू की वजह से प्रयागराज में ही दर्जन भर से ज्यादा पोल्ट्री फार्म बंद हो गए। इस वजह से बहुत से पोल्ट्री फार्म संचालकों ने चूजा नहीं डाला। अब होली पर डिमांड होने से बड़ी राहत मिली है। मोतीमहल के पास मुर्गा महल के आतिफ ने बताया कि डिमांड एकाएक बढ़ी है। एक दिन में ही 500 से ज्यादा मुर्गों की बिक्री हो जा रही है।


दो दिन में ही दस करोड़ से अधिक की बिक्री का अनुमान
होली पर चिकन, मटन से ही शनिवार और रविवार को शहर में तकरीबन दस करोड़ से अधिक का कारोबार होने का अनुमान लगाया गया। घंटाघर के पास मटन के कारोबारी याकूब ने बताया कि बर्ड फ्लू के दौरान ही मटन की कीमत बढ़कर 600 रुपये किलो हो गई थी। इस वजह से होली पर दाम नहीं बढ़े, लेकिन डिमांड ज्यादा बनी हुई है। कहा कि रविवार को मटन की और ज्यादा बिक्री होने का अनुमान है। उधर शहर के तमाम फुटकर कारोबारियों ने होली को देखते हुए थोक व्यापारियों से मुर्गों की एडवांस बुकिंग करवा ली। हटिया के कारोबारी राशिद ने बताया कि मांग के मुताबिक इस बार मुर्गें की आपूर्ति नहीं हुई।

Kadaknath Chicken
Kadaknath Chicken

होली के पहले नमकीन की दुकानों पर उमड़ी लोगों की भीड़
होली के पहले शहर की नामी नमकीन की दुकानों पर लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। विवेकानंद मार्ग स्थित स्टेटमैन के राशिद सगीर ने बताया कि मठरी, पापड़ी, मिक्सर नमकीन की डिमांड काफी रही। वहीं महाजनी टोली और सिविल लाइंस स्थित अग्रवाल नमकीन वाला के राजीव अग्रवाल ने बताया कि होली के अवसर पर नमकीन की 40 से ज्यादा वैरायटी तैयार की गई है। इस बार भी इसकी अच्छी बुकिंग लोगों ने करवाई है। काजू-मेवा मिक्सर की भी डिमांड बनी हुई है।


Sharing Is Caring

What do you think?

Written by kisan post

Comments

Leave a Reply

Loading…

0
Storm-and-Hail-kota

ओलावृष्टि से खराब हुई फसल दिखाते रो पड़े किसान

kisan post

राजस्थान में आग में जल गई लाखों की गेहूं की फसल